विश्व बैंक 11,000 करोड़ रुपये देगा भारत को।

0
234

अमेरिका की राजधानी वाशिंगटन मे मौजूद विश्व बैंक ने भारत का प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया है।अब भारत को बांधों की सुरक्षा के लिए विश्व बैंक 11,000 करोड़ रुपये देगा। ताकि बांधों को सुरक्षित रखा जा सके।
क्योंकि भारत बांधो की संख्या में तीसरे स्थान पर आता है। वहीं पहला स्थान पर चीन है जिसकी बांधों की संख्या 23,842 है,तो दुसरा स्थान पर अमेरिका है,इनका बांधों की संख्या 9,261 है।
लेकिन ख़ास बात यह है,कि भारत सभी देशों मे से सबसे ज़्यादा बांध लाॅन लेने वाला देश है। डाटा के अनुसार 2015 तक लगभग 102.1 बिलियन डाॅलर का लाॅन लिया है। अगर 2018 तक देखें तो 106 से 108 बिलियन डाॅलर तक मिलेगी। हलांकि अभी 7,000 करोड़ था। लेकिन रीपोर्ट के बाद बढ़ाकर 11 हजार करोड़ हो गई।
वर्तमान मे भारत के पास कुल 5,264 बड़े–बड़े बांधे है। इनमे से 80 प्रतिशत बांधे 25 साल से ज़्यादा पुराने है,और 213 बड़े बाधें लगभग 100 साल से भी ज़्यादा पुराने हैं,जैसे मुल्ला पेरियार बांध आदि।
इनमे से 733 बाधों की सुरक्षा और परिचालन प्रदर्शन करने के लिए यह प्रस्ताव को स्वीकृति दिया है। क्योकि कभी–कभी बांध बन जाता है,और उसका सुरक्षा पे ध्यान नहीं दिया जाता है,तब बहुत बड़ी आपदा लाती है। इसका उदाहरण गुजरात का माचू–।। बांध है,यह 1979 मे फैल हो जाने के कारण लगभग 2,000 से लेकर 10,000 लोगों की मृत्यु हो गई थी। कई लोगो का कहना है,कि 20,000 से 25,000 लोगो की मृत्यु हुई थी।कई लोगों का मकान टुट था और इससे अर्थव्यस्था पर भी काफी प्रभाव पड़ा था।
आपको दे कि हाल ही मे उड़ीसा के भुनेश्वर मे 5वां अंतराष्टट्रीय बांध सुरक्षा काॅनफ्रेंस हुई थी। आने वाले 10 साल तक सुरक्षा करने का काम करेगा।

हालांकि बांध बहुत महत्वपूर्ण है,लेकिन इसको जितना सुरक्षित रखा जाय।

LEAVE A REPLY