यूपी को तीन अलग-अलग राज्यों में बांटने की तैयारी?

0
193

सोशल मीडिया पर एक सूची वायरल हो रही है। जिसे उत्तर प्रदेश के ज़िला मुख्यालयों की सूची बता कर यह दावा किया जा रहा है। कि सरकार ने उत्तर प्रदेश को तीन अगल-अलग राज्यों में बाटने का फ़ैसला कर लिया है।

इस सूची के हवाले से फ़ेसबुक, ट्विटर और वॉट्सऐप के ज़रिये यूज़र्स यह दावा कर रहे हैं। कि उत्तर प्रदेश तीन राज्यों में बाँटा जाने वाला है।

जिनके नाम होंगे उत्तर प्रदेश, बुंदेलखण्ड और पूर्वांचल।पहले राज्य की राजधानी लखनऊ, दूसरे की प्रयागराज और तीसरे की राजधानी गोरखपुर होगी।

इस वायरल सूची में यह भी दावा किया गया है कि यूपी के कुछ ज़िलों को उत्तराखण्ड, दिल्ली और हरियाणा में शामिल करने की योजना बनाई गई है। और इसकी घोषणा जल्द ही की जाएगी।

इन दावों में कितनी सच्चाई है? यह जानने के लिए कई यूजर्स ने यह सूची हमारे साथ साझा की।

दुनिया में स्पेनिश फ्लू महामारी से भी बड़ॆ वाइरस का अटैक, जा सकती हैं 8 करोड़ जाने, डब्ल्यूएचओ ने जारी किया अलर्ट।

सोशल मीडिया पर वायरल हो रही इस सूची के बारे में हमने जो जानकारी इकट्ठा की उसमें यह फ़र्ज़ी साबित हुई। उत्तर प्रदेश सरकार और केंद्र सरकार के वरिष्ठ अधिकारियों के अनुसार यह एक फ़र्ज़ी लिस्ट है और सरकार इस दिशा में कोई क़दम नहीं उठाने जा रही है।

नाबालिग के साथ गैंगरेप, पुलिसवालों की बदसलूकी के बाद गांववालों का हंगामा।

जानकारी के अनुसार,  “उत्तर प्रदेश के बँटवारे की कोई योजना नहीं है। यूपी सरकार के सामने इस तरह का कोई प्रस्ताव नहीं है। सोशल मीडिया पर इससे संबंधित जो भी ख़बरें घूम रही हैं, वो फ़र्ज़ी हैं। लोग ऐसी अफ़वाहों पर ध्यान ना दें।”

वहीं भारत के गृह मंत्रालय की ओर से प्रेस से बात करने वाले एक वरिष्ठ अधिकारी ने भी इस बात से इनकार किया कि ‘यूपी के बँटवारे की कोई योजना’ बनाई गई है।

उन्होंने कहा, “केंद्र सरकार के सामने ऐसा कोई प्रस्ताव नहीं आया है. सोशल मीडिया पर शेयर की जा रही लिस्ट फ़र्ज़ी है।”

नाबालिग के साथ गैंगरेप, पुलिसवालों की बदसलूकी के बाद गांववालों का हंगामा।

राहुल काद्यान के आरोपों में कितनी सच्चाई?

प्रगति मैदान में 23 से 25 सितम्बर तक होगा आठवें इंडिया इंटरनेशनल स्पोर्ट् एक्सपो का आयोजन होगा

चिदंबरम के बाद कांग्रेस के वरिष्ठ नेता डीके शिवकुमार को तिहाड़ जेल।

LEAVE A REPLY