गोण्डा-विकास कार्यो की समीक्षा बैठक से अनुपस्थित तीन अधिकारियों से स्पष्टीकरण तलब

0
179

श्याम बाबू कमल गोंडा उत्तर प्रदेश

अधिकारियों को आफिस में समय से बैठने की नसीहत, नदारद मिले तो होगी कार्यवाही-डीएम

गोंडा में डीएम की बैठक से बिना सूचना अनुपस्थित नहर विभाग के तीन एक्सईएन से स्पष्टीकरण तलब करने के साथ ही पेयजल योजनाओं की संतोषजनक स्थिति न पाए जाने पर एक्सईएन जल निगम को प्रतिकूल प्रविष्टि दी है। इसके साथ ही सभी अधिकारियों को समय से अपने अपने दफ्तरों में बैठने की नसीहत दी गई है। यह कार्यवाही डीएम कैप्टेन प्रभान्शु श्रीवास्तव ने कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित विकास कार्यो की समीक्षा बैठक के दौरान की है।
डीएम ने सभी अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिए कि वर्तमान वित्तीय वर्ष का अन्तिम त्रैमास शुरू हो चुुका है। इसलिए निर्वाचन की आचार संहिता लगने से पहले विकास कार्यो, निर्माण कार्यो सम्बन्धी सभी औपचारकिताएं जैसे ई-टेन्डरिंग, प्रस्ताव आदि करा लें जिससे विकास कार्य कतई प्रभावित न हों। डीएम ने यह भी निर्देश दिए कि सभी अधिकारियों को सख्त चेतावनी दी है कि उनके द्वारा अब सरकारी दफ्तरों की रैण्डम चेकिंग शुरू करा दी गई है इसलिए वे सब हर हाल में अपने आफिस में समय से बैठें। उन्होने कहा कि अनुपस्थित पाए जाने वाले अधिकारी कर्मचारियों के खिलाफ निश्चित ही कार्यवाही होगी। समीक्षा बैठक में डीएम ने सड़क निर्माण, गढडा मुक्ति, विद्युतीकरण, नहरों की स्थिति, ओडीएफ, अवैध खनन, निर्माण कार्यो में महिला अस्पताल व जिला अस्पताल में निर्माणाधीन मैटरनिटी विंग व वार्ड, आसरा आवास, फोरेन्सिक लैब, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी कार्यालय परिसर में निर्माणाधीन भवन, ओडीआर एमडीआर, पेयजल, वन डिस्ट्रिक्ट वन प्रोडक्ट, बेसिक शिक्षा,ेगन्ना खरीद व भुगतान, प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी व ग्रामीण सहित अन्य विभागों की विभागवार समीक्षा की तथा आवश्यक निर्देश दिए।
बैठक में सीएमओ, पीडी, डीपीआरओ, डीसी एनआरएलएम, डीएसटीओ, डीसीओ, प्रोबेशन अधिकारी, जिला समाज कल्याण अधिकारी, जीएम डीआईसी, जिला कृषि अधिकारी, डीएसओ, सभी कार्यदाई संस्थाओं के एक्सईएन व खण्ड विकास अधिकारी रहे।

LEAVE A REPLY